Fri, 5 Aug 2022

किसानो के लिए खुशखबर कृषि यंत्रों पर मिलेगी 50 से 80% तक की सब्सिडी, इस तारीख तक जल्द करें आवेदन

 किसानो के लिए खुशखबर कृषि यंत्रों पर मिलेगी 50 से 80% तक की सब्सिडी, इस तारीख तक जल्द करें आवेदन

आजकल कृषि क्षेत्र में तकनीकी विकास के लिए सरकार द्वारा लगातार प्रयास किया जा रहा है. सरकार किसानों को आधुनिक उपकरणों का प्रयोग करके लागत को कम करत सकते है और पैदावार में वृद्धि हो सकती है, इसलिए कृषि में मशीनीकरण को बढ़ाया जा रहा है और फसलों के अवशेष प्रबंधन पर भी ध्यान दिया जाए.
 

50 से 80% अनुदान का है प्रावधान
 

कृषि यंत्रों पर अनुदान के लिए सरकार ने 25 अगस्त अंतिम तारीख निर्धारित की गई है. इस तारीख तक किसान नौ प्रकार के कृषि यंत्रों पर सब्सिडी प्राप्त कर सकते हैं. इसके लिए उन्हें विभाग में आवेदन करना पड़ेगा.
 

क्या है योजना
 

कृषि विभाग के मुताबिक 2022 - 23  में कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा कृषि में मशीनीकरण को प्रोत्साहित करने के लिए फसल अवशेष प्रबंधन योजना के तहत कृषि यंत्रों पर अनुदान का प्रावधान दिया गया है. इस योजना के तहत शामिल कृषि यंत्र है -  स्ट्रॉ बेलर, हैप्पी सीडर, पैडी स्ट्रॉ चॉपर,  सुपरपैडी स्ट्रा चोपर, मल्चर, रोटरी स्लेशर, शर्ब मास्टर, रिवर्सिबल एमबी प्लो, सुपर सीडर, जीरो टिल सीड कम फर्टिलाइजर ड्रिल, रिपर कम बाइंडर, ट्रैक्टर चालित क्राप रिपर और स्वचालित क्रॉप रिपर पर दी जा रही है.
 

किस तरह ले योजना का लाभ
 

इस योजना का लाभ लेने की इच्छुक किसान विभाग की वेबसाइट पर 'मेरी फसल मेरा ब्योरा' के तहत अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं. यह रजिस्ट्रेशन 25 अगस्त तक ऑनलाइन करवाया जा सकता है. विभाग के मुताबिक, इसमें रजिस्ट्रेशन करवाने वाले किसान उत्पादक संगठन को 80% तथा व्यक्तिगत श्रेणी में अधिकतम 50% तक अनुदान मिलेगा बशर्ते संबंधित किसान ने उस  यंत्र पर पिछले 2 साल में सब्सिडी का लाभ ना लिया हो.
 

ये हैं जरूरी शर्तें
 

इस योजना का लाभ लेने के लिए एक शर्त यह है कि कृषि यंत्रों की खरीद सूचीबद्ध कृषि यंत्र निर्माताओं से करनी होगी. यानी ये लिस्टेड मैन्युफैक्चरर होने चाहिए. इसके साथ साथ जिन कृषि यंत्रों की लागत ढाई लाख से कम होती है, उसके 2500 रुपए एवं जिनकी लागत ढाई लाख से अधिक है उसके लिए 5000 की टोकन राशि जमा करवानी जरूरी है.