Tue, 24 Aug 2021

जाने,पथरी के लक्षण और उसका जड़ से इलाज ?

जाने,पथरी के लक्षण और उसका जड़ से इलाज ?

stone पथरी की बीमारी आज कल कॉमन होती जा रही है, बहुत से लोग इस बीमारी का सामना कर रहें है, हर उम्र के लोगों में पथरी की बीमारी आम है। चाहे बच्चों की बात करे या बूढ़ो की गलत खान-पान की वजह से पथरी किसी को भी हो सकती है।

जानिये क्या है पथरी stone होने के कारण-

  • शरीर में पानी की कमी होना- पानी की कमी,गुर्दे की पथरी(kidney stone)का प्रमुख कारण है।यदि आप ज़रुरत से कम पानी पीते है तो आपको किडनी की पथरी की समस्या हो सकती है, शरीर में पानी की कमी से कीडनी की पथरी बनती है जो की बहुत दर्दनाक हो सकती है, इसलिए ध्यान रखें की आप दिन में 6-8 गिलास पानी पिए।
  • गलत खान-पान का होना – अगर आप खाने में नमक और चीनी की मात्रा अधिक लेते है तो आप को (kidney stone) का खतरा हो सकता है, इस से बचने के लिए आपको खान-पान का विशेष ध्यान रखना चाहिए और आहर संतुलित मात्रा में लेना चाहिए।
  • मोटापा- अगर आपका BMI (Body Mass Index) ज़्यादा है तो आप को पथरी का खतर हो सकता है, ऐसे में आपके आपना मोटापा कम करना चाहिए।
  • विटामिन ‘सी’ या कैल्शियम वाली दवाओं का अधिक सेवन करना- यदि आप ने विटामिन ‘सी’(vitamin C) या कैल्शियम ( Calcium) की दवाईयों का अधिक सेवन किया है तो आपको कीडनी की पथरी हो सकती है। ज़्यादा समय तक विटामिन की खुराक या दवाई खाने से खून और यूरिन में कैल्शियम की मात्रा बढ़ जाती है, जिसे पथरी होने का खतरा बढ़ जाता है।
  • जाने,पथरी के लक्षण और उसका जड़ से इलाज ?

क्या है लक्षण –

  • दर्द बहुत ज़्यादा होना , चलने और बैठने में मुश्किल होना।
  • दर्द का साथ-साथ उल्टी ( vomiting)होना।
  • दर्द के साथ ठंड लगना और बुखार आना।
  • यूरिन में खून आना।
  • यूरिन सही से ना आना।

क्या ना खाएं –

  • पथरी की बीमारी में विटामिन – सी को खाने से बचें ,जैसे पालक , टमाटर, चॉकलेट, बैगंन, आदि ना खाये ।
  • कोल्ड ड्रिंक और कैफीन का सेवन ना करें,
  • ज़्यादा नमक का सवेन ना करें।
  • बाहर का तला हुआ (fried) ना खाएं।

क्या खाएं–

  • पथरी की बीमारी में तरल पदार्थ का ज़्यादा से ज़्यादा सेवन करे।
  • विटामीन –डी की मात्रा भोजन मे ज़्यादा रखें।
  • तुलसी का भी सेवन करें।

Benefits, Side Effects, and More from Aloe Vera