Thu, 2 Dec 2021

ज्यादा पपीता खाने से क्या नुकसान होता है?इन लोगों को भूलकर भी नहीं खाना चाहिए पपीता,

ज्यादा पपीता खाने से क्या नुकसान होता है?इन लोगों को भूलकर भी नहीं खाना चाहिए पपीता,

पपीता  अपने कई गुणों के लिए जाना जाता है. इसलिए आपने कच्चा और पका दोनों तरह का पपीता खाने के कई सारे फायदों के बारे में सुना होगा. ये पेट सहित शरीर की कई सारी दिक्कतों को दूर करने में काफी फायदेमंद माना जाता है. लेकिन बता दें कि पपीता खाने से अगर ढेर सारे फायदे सेहत को मिलते हैं. तो कई मामलों में इसके कई नुकसान भी हो सकते हैं.
अगर आप अलग से पपीता नहीं भी खाते हैं, तो कई बार आप मिक्स फ्रूट चाट में गलती से इसका सेवन कर लेते हैं. तो कभी कच्चे पपीते की सब्ज़ी बनवा लेते हैं. तो आज हम आपको बताते हैं कि कच्चा या पका दोनों ही तरह के पपीते का सेवन करना, किन लोगों के लिए नुकसानदायक हो सकता है. जिससे आप पपीता खाने से पहले एक बार अपनी सेहत के बारे में ज़रूर सोचें. आइये जानते हैं इसके बारे में.

 

ज्यादा पपीता खाने से क्या नुकसान होता है?इन लोगों को भूलकर भी नहीं खाना चाहिए पपीता,

प्रेग्नेंसी के दौरान

प्रेग्नेंट महिला को कच्चा या पका किसी भी तरह का पपीता नहीं खाना चाहिए. पपीते की तासीर बेहद गर्म होती है. जिसकी वजह से इसको खाने से गर्भवती महिलाओं को दिक्कत हो सकती है और गर्भ में मौजूद भ्रूण को नुकसान पहुंच सकता है. इतना ही नहीं पपीता खाने से गर्भपात होने का खतरा भी बना रहता है.
पीलिया होने पर

पीलिया की दिक्कत से जूझ रहे लोगों को पपीता खाने से बचना चाहिए. पपीते में पपैन और बीटा कैरोटीन नाम के तत्व पीलिया की दिक्कत को बढ़ाने का काम करते हैं. ऐसे लोगों के लिए पपीते का सेवन डॉक्टर की सलाह पर ही करना बेहतर होगा.

 

गाढ़े खून की दिक्कत में

कई लोग ऐसे होते हैं जिनका खून नॉर्मल से ज्यादा गाढ़ा होता है. ऐसे लोगों को डॉक्टर खून पतला करने के लिए दवाएं देते हैं. जो लोग खून को पतला करने वाली दवाओं का सेवन करते हैं. उनको पपीते के सेवन से बचना चाहिए या फिर उनको डॉक्टर की सलाह पर ही पपीता खाना चाहिए.

 

ज्यादा पपीता खाने से क्या नुकसान होता है?इन लोगों को भूलकर भी नहीं खाना चाहिए पपीता,

लो शुगर पेशेंट को

पपीता ब्लड शुगर लेवल को कम करने का काम भी करता है. जो लोग ब्लड शुगर लेवल कम करने के लिए दवाओं का सेवन कर रहे हैं. उनको पपीते का सेवन डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही करना चाहिए. वरना इससे दिक्कत हो सकती है.

Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Muft khabar इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)