Tue, 12 Jul 2022

लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के 6 सदस्य गिरफ्तार, आगे की कार्रवाई जारी ​​​​​​

लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के 6 सदस्य गिरफ्तार,  आगे की कार्रवाई जारी

पंजाब : एसटीएफ ने लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के पांच कुख्यात सदस्यों को बहादुरगढ़ से गिरफ्तार किया है। चोरी की छह लग्जरी कारें भी बरामद हुई हैं। यह जानकारी हरियाणा एसटीएफ के सूत्रों ने दी।

सूत्रों ने बताया कि एसटीएफ की टीम को बहादुरगढ़ में आरोपियों की आवाजाही के संबंध में विशेष सूचना मिली थी। उन्होंने बताया कि टीम ने तेजी से कार्रवाई करते हुए बहादुरगढ़ बाईपास के पास जाल बिछाया और उन्हें पकड़ लिया। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार व्यक्तियों में चिराग भी शामिल है, जो दक्षिण हरियाणा में बिश्नोई गिरोह का मादक पदार्थ का अवैध कारोबार देखता है और मूसेवाला हत्याकांड में गिरफ्तार टीनू भिवानी का छोटा भाई है।

उन्होंने बताया कि अन्य व्यक्तियों में कार चोर मनोज बक्करवाला, राजस्थान के बाड़मेर का निवासी प्रकाश बाड़मेर, पिंजौर निवासी अमित और पंजाब के जिरकपुर निवासी संजय शामिल है। उन्होंने बताया कि बिश्नोई गिरोह के अलावा ये काला जठेड़ी गिरोह के लिए भी लंबे समय से काम कर रहे थे।

टीनू भिवानी नाम के बिश्नोई गिरोह के कुख्यात गैंगस्टर के जरिए आरोपी बक्करवाला और बाकी बदमाश लॉरेंस बिश्नोई और संपत नेहरा के संपर्क में आए।

पुलिस अधीक्षक (एसपी) सुमित कुहाड़ ने कहा कि पूछताछ में बक्करवाला ने बिश्नोई गिरोह को हथियार और मादक पदार्थ मुहैया कराने का खुलासा किया है। कुहाड़ ने कहा कि वह लग्जरी कारों की चोरी का भी आदतन अपराधी रहा है और अब तक देश के विभिन्न राज्यों से सैकड़ों लग्जरी वाहन चुरा चुका है।

उन्होंने कहा, वह कई बार गिरफ्तार किया गया है और पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया है। उसके खिलाफ दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और पंजाब में कई मामले दर्ज हैं। इसके अलावा, वह अब तक लगभग 10 साल तक जेल में बंद रहा है।