Fri, 10 Jun 2022

बिहार: एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत, हत्या या आत्महत्या, जांच

बिहार: एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत, हत्या या आत्महत्या, जांच

ये तस्वीर है समस्तीपुर जिले के विद्यापतिनगर थाना अन्तर्गत मऊ धनेशपुर गांव की. इस परिवार के सदस्य थे- 45 साल के मनोज झा, 40 साल की उनकी पत्नी सुंदर मणि देवी, 65 साल की उनकी मां सीता देवी, साल और आठ साल के उनके दो बच्चे सत्यम और शिवम. उनकी मौत को कुछ लोग हत्या बता रहे हैं तो कुछ लोग आत्महत्या.

वहीं, पांच दिन बीतने के बाद भी इस मामले में स्थानीय पुलिस का कहना है कि विसरा के फोरेंसिक जांच के बाद ही पोस्टमॉर्टम की फ़ाइनल रिपोर्ट मिल सकेगी.

ग़ौरतलब है कि मनोज झा और सुंदर मणि देवी के कुल चार बच्चे थे. दो लड़के और दो लड़कियां. उनकी दो लड़कियों काजल और निभा की शादी हो चुकी है और दोनों अभी जीवित हैं.

काजल की शादी पांच साल पहले हुई थी, वहीं निभा की शादी को कुछ महीने ही बीते हैं. घटना के दिन निभा और उनके पति आशीष मनोज के घर में ही मौजूद थे.

गांव पहुंचने के बाद हमारी मुलाक़ात सबसे पहले काजल के पति गोविंद झा से हुई. गोविंद ने हमसे कहा कि घटना के दिन उनके ससुर मनोज ने क़रीब साढ़े तीन बजे उन्हें फ़ोन किया था. वे पहली बार में फ़ोन नहीं उठा सके. जब 5 मिनट के बाद उन्होंने पलटकर फ़ोन किया तब उनकी बात हो सकी थी.

बकौल गोविंद मनोज झा बीते कई दिनों से परेशान चल रहे थे. वो बताते हैं, "उस दिन भी फ़ोन करके कहा कि वे गांव छोड़कर कहीं जा रहे हैं. वे फ़ोन के साथ ही और भी सामान घर में कहीं रख जाएंगे. कह रहे थे कि आके सारा सामान ले लें."

गोविंद ने बताया कि उन्होंने मनोज झा को फिर से फ़ोन किया लेकिन उनका फ़ोन स्विच ऑफ़ हो चुका था. तब उन्होंने अपनी पत्नी काजल को फ़ोन किया लेकिन उन्होंने भी फ़ोन नहीं उठाया. उनकी मां ने भी फ़ोन नहीं उठाया. तब उन्होंने गांव में रहने वाली एक और रिश्तदार रीना झा को फ़ोन किया और उनके साथ तमाम बातें साझा कीं.