Thu, 16 Jun 2022

Sidhu Moose Wala: पंजाब पुलिस के साथ पूरे रास्ते घबराहट में रहा लारेंस बिश्‍नोई, बोला

Sidhu Moose Wala: पंजाब पुलिस के साथ पूरे रास्ते घबराहट में रहा लारेंस बिश्‍नोई, बोला

गुरप्रेम लहरी, बठिंडा। दिल्ली से पंजाब लाया गया गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई पूरे रास्ते डर और घबराहट में था। उसका चेहरा मास्क से ढककर रखा गया। वह बार-बार पुलिस कर्मियों को चेहरे से मास्क उतारने के लिए कहता रहा। परंतु पुलिस अधिकारियों की हिदायतों के कारण पुलिस कर्मियों ने उसके चेहरे से मास्क नहीं हटाया।

पूरे रास्ते चेहरे से मास्क उतारने के लिए कहता रहा बिश्नोई

पुलिस विभाग के उच्च स्तरीय सूत्रों के अनुसार वह पूरा डरा हुआ था और वह मास्क उतारने की जिद करता रहा। रात के समय जब खाना खाने के लिए रुके तो भी वह घबरा गया था। वह रास्ते में खुद ही कहता रहा कि मुझे पीटना मत, मैं आपको सब कुछ बता दूंगा।

बिश्नोई को दिल्ली से पंजाब तक लाने वाली टीम में से एक सदस्य ने बताया कि जब उसे पंजाब लाया जा रहा था तो वह बार-बार उन्हें यही कह रहा था कि जो भी आप पूछेंगे, सच-सच बता दूंगा। बस मुझे पीटना नहीं। वह यह कहते हुए मास्क हटाने के लिए कहता रहा कि उसे घबराहट हो रही है। उसे थोड़ी देर के लिए मास्क उतारकर राहत दें, परंतु पुलिस कर्मियों ने मास्क नहीं हटाया।

गैंगस्टर गोल्डी बराड़ का जीजा गोरा भी रिमांड पर लिया

उधर, होशियारपुर की  केंद्रीय जेल में बंद गैंगस्टर गोल्डी बराड़ के जीजा गोरा को पंजाब पुलिस ने प्रोडक्शन वारंट पर लिया है। सूत्रों के अनुसार उसे थाना माडल टाउन होशियारपुर पुलिस की टीम ने रिमांड हासिल किया है और उसे भी खरड़ सीआइए स्टाफ ले जाया गया है। सूत्रों के अनुसार तिहाड़ जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लाए गए गैंगस्टर लारेंस विश्नोई से पूछताछ के बाद गोरा गोरा और उसके एक साथी नीरज को प्रोजक्शन वारंट पर लिया गया है।

उन्हें अदालत में पेश करने के बाद दो दिन का रिमांड मिला है। सूत्रों का कहना है कि सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी लेने वाले कनाडा में बैठे गैंगस्टर गोल्डी बराड़ का जीजा गोरा भी एक हत्या के मामले में जेल में बंद है। हालांकि पुलिस अधिकारी अभी कुछ भी खुलकर बताने के लिए तैयार नहीं हैं लेकिन सूत्रों का कहना है कि पुलिस के पास इश बात की सूचना है कि गोरा और नीरज को सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड की जानकारी थी।

सूत्रों का कहना है कि वे दोनों जानते हैं कि हत्या की साजिश कैसे रची गई थी। यह भी बताया जा रहा है कि गोल्डी बराड़ की कनाडा से अपने जीजा गोरा के साथ बातचीत भी हुई थी और सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में इन दोनों की भूमिका भी संदेह के घेरे में हैं।