Thu, 23 Jun 2022

गुवाहटी में रेडिसियन ब्लू होटल के बाहर टीएमसी कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन, बीजेपी पर लगाया ये आरोप

गुवाहटी में रेडिसियन ब्लू होटल के बाहर टीएमसी कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन, बीजेपी पर लगाया ये आरोप

तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress- टीएमसी) के कई सदस्यों और असम यूनिट (Assam unit) के कार्यकर्ताओं को गुवाहाटी (Guwahati) में रेडिसियन ब्लू होटल के बाहर विरोध प्रदर्शन करने के लिए हिरासत में लिया गया है। रेडिसियन ब्लू होटल (Radissian Blu Hotel) में शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) के खेमे के महाराष्ट्र के बागी विधायक ठहरे हुए हैं। टीएमसी कार्यकर्ताओं ने होटल के बाहर विरोध प्रदर्शन करते हुए बीजेपी पर असम बाढ़ के बीच विधायकों की 'बिक्री' कराने का आरोप लगाया है। विरोध का नेतृत्व टीएमसी के प्रदेश अध्यक्ष रिपुन बोरा ने किया है।
 
बता दें कि शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में कई विधायक असम के गुवाहाटी के एक होटल में डेरा डाले हुए हैं। जिस वजह से महाराष्ट्र की एमवीए सरकार गिरने की कगार पर आ गई है। समाचार एजेंसी एएनआई ने एक कार्यकर्ता के हवाले से कहा कि असम में लगभग 20 लाख से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हैं लेकिन सीएम महाराष्ट्र सरकार को गिराने में व्यस्त हैं।

पुलिस ने टीएमसी प्रदर्शनकारियों को धरना स्थल से हटाया

असम पुलिस ने टीएमसी नेता रिपुन बोरा को अन्य टीएमसी प्रदर्शनकारियों के साथ रैडिसन ब्लू के बाहर धरना स्थल से हटा दिया है। और कई को हिरासत में ले लिया है। रिपुन बोरा ने मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा को महाराष्ट्र के असंतुष्टों की सुविधा के लिए दोषी ठहराया हैं।

महाराष्ट्र राजनीतिक संकट

महाराष्ट्र में वर्तमान राजनीतिक उथल-पुथल तब शुरू हुई जब एकनाथ शिंदे 26 विधायकों के साथ एमएलसी चुनावों के परिणाम घोषित होने के बाद लापता हो गए। सूत्रों के मुताबिक, करीब 42 विधायक गुवाहाटी के होटल में डेरा डाले हुए हैं। एकनाथ शिंदे के बागी हो जाने के बाद महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे बुधवार को अपने आधिकारिक आवास वर्षा से परिवार के निजी घर 'मातोश्री' चले गए। इसी बीच आज शिवसेना नेता संजय राउत ने दावा किया कि करीब 20 विधायक उनके संपर्क में हैं।