Mon, 14 Jun 2021

मनुष्य के आने से पहले धरती पर कौन आया था ?

मनुष्य के आने से पहले धरती पर कौन आया था ?

जिज्ञासा पूर्ण यह विषय हमेशा से ही वैज्ञानिकों और सामाजिक लोगों के लिए एक चुनौती रहा है| मनुष्य के धरती पर आने से पूर्व सभ्यता आई थी या नहीं इसके कुछ पुख़्ता तथ्य तो प्राप्त नहीं हुए हैं और अगर कुछ तथ्य किसी द्वारा दिए गए हैं तो उन्हें समाज के ही दूसरे समुहों ने इनका खंडन कर दिया है| मानव सभ्यता का प्रयोग समाज में रह रहे मानव के सकारात्मक, प्रगतिशील एवं उसके विकास के लिए किया जाता है| सभ्यता एक परिकल्पना से जुड़ी हुई है| अधिकतर वैज्ञानिकों एवं कुछ बुद्धिजीवी लोगों द्वारा यही निष्कर्ष निकाला गया है कि मनुष्य के आने से ही पृथ्वी पर सभ्यता आई है| इस कथन को साबित करने के लिए अलग अलग तर्क दिए गए हैं| वैसे तो सभ्यता के विकास को नापने के लिए हमारे पास कोई यंत्र या पैमाना नहीं है|

मनुष्य के आने से पहले धरती पर कौन आया था ?

यूँ तो मानव सभ्यता का विकास कभी थमा नहीं है| आधुनिक युग इसका एक बेहतरीन उदाहरण है| मानव सभ्यता की शिकार सबसे पहली अवस्था थी | सभ्यता मनुष्य का वह गुण है जिससे वह आदमी बाहरी तरक्की करता है|

पृथ्वी पर मानव के आने से पूर्व सभ्यता का होना यह बात केवल परिकल्पना के आधार पर की जा सकती है क्योंकि ना तो मनुष्य ने सभ्यता का वह रूप देखा और न ही महसूस किया| हां, पर जब मनुष्य धरती पर आये उन्हों ने  अपनी जरूरत के अनुरूप उन्नत विकास किया फलस्वरूप वह काफी हद तक एक सभ्य हो गया है|

मनुष्य के आने से पहले धरती पर कौन आया था ?

क्या वास्तव में मनुष्य के आने से पूर्व पृथ्वी पर सभ्यता थी? इस सवाल की पुष्टि नहीं की जा सकती| मनुष्य के आने से पूर्व पृथ्वी एलियंस आये, अन्य जीव जंतु उनकी अनेक प्रजातियां आई उन्हों ने लम्बा वक्त धरती पर निकाला वह कितने सभ्य हुए उनके सबूत किसी के पास नहीं है| पर मनुष्य सभ्यता से जुड़े अनेक सबूत और तथ्य मौजूद है| जिनके आधार पर कहा जा सकता है कि मनुष्य के आने से ही पृथ्वी पर सभ्यता की झलकियां देखने को मिली हैं|

पृथ्वी पर मनुष्य के आने से पूर्व कुछ नमूने अवश्य प्राप्त होते हैं पर उन्हें देख कर सौ प्रतिशीत रूप से यह नहीं कहा जा सकता कि वह काल कितना सभ्य था|

मानव सभ्यता के धरती पर कुछ उदाहरण जिनके अनुसार कहा जा सकता है कि मनुष्य के आने पर ही सभ्यता आई है| सभ्यता का आधार विज्ञान की सफलता पर होता है| जैसे साईकिल से मोटर साईकिल, ट्रैन, हवाई जहाज आदि ऐसे अनेक उदाहरण है जिन को देख कर लगता है कि मनुष्य के आने से ही पृथ्वी पर सभ्यता ने जन्म लिया |

मनुष्य के आने से पहले धरती पर कौन आया था ?

परिकल्पना से भरे इस विषय पर बिलकुल सटीक निष्कर्ष पर तो नहीं पहुंचा जा सकता है| यह महज़ एक सवाल के रूप में ही अपनाया जा सकता है| अंत सभ्यता का कोई अंत नहीं है