Wed, 13 Jul 2022

बड़ी खबर: खेदड़ की महापंचायत से बड़ा फैसला, किसान नेताओं ने दिया 2 घंटे का अल्टीमेटम ​​​​​​

बड़ी खबर: खेदड़ की महापंचायत से बड़ा फैसला, किसान नेताओं ने दिया 2 घंटे का अल्टीमेटम

हिसार: जिले के खेदड़ पावर प्लांट में ग्रामीणों और पुलिस कर्मचारियों के बीच हुई झड़प के मामले में बुधवार को एक महापंचायत का आयोजन किया गया। किसान धर्मपाल को मौत होने और किसानों के खिलाफ मुकदमे दर्ज करने को लेकर किसान नेताओं ने बड़ा फैसला लिया है। किसान नेताओं ने फैसला लिया कि मृतक किसान धर्मपाल का अंतिम संस्कार अभी नहीं करेंगे। किसान नेताओं ने प्रशासन को 2 घंटे का अल्टीमेटम दिया है। इसके बाद मृतक किसान का शव हाईवे पर रखकर जाम लगाया जाएगा। इस दौरान किसानों ने तमाम मांगों को जल्द से जल्द पूरी करने के लिए प्रशासन को चेतावनी दी है।
 
टिकैत बोले, गऊ बचाने की है लड़ाई
किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि सरकार लगातार किसान-मजदूर पर शिकंजा कस रही है। उन्होंने कहा कि सरकार किसानों की आवाज को दबाना चाहती है। टिकैत ने कहा कि खेदड़ के मामले में भी कोई किसानों की बात सुनने को तैयार नहीं है। इसलिए कमेटी ने फैसला लिया है कि यह आंदोलन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि सरकार की नीयत साफ नहीं है। सरकार किसानों की जमीन हड़पना चाहती है। राकेश टिकैत ने कहा कि यह लड़ाई गऊ बचाने की लड़ाई है। इसलिए इस लड़ाई में समाज के हर वर्ग को सहयोग करना चाहिए।