Wed, 27 Jul 2022

कांवड़ लेकर आ रहे हरियाणा और यूपी के कावड़ियों में जानलेवा झगड़ा, जमकर चले लाठी-डंडे, एक की मौत

कांवड़ लेकर आ रहे हरियाणा और यूपी के कावड़ियों में जानलेवा झगड़ा, जमकर चले लाठी-डंडे, एक की मौत

 पानीपत। शिवरात्रि के पावन पर्व पर सूर्योदय के साथ ही जलाभिषेक आरंभ हो गया। बच्चे, बुजुर्ग और महिलाओं ने भी कावड़ियों के साथ जलाभिषेक किया। हजारों कावड़ियों ने त्रयोदशी का जल शिवलिंग पर चढ़ाया और अपने क्षेत्र के शिवालयों में चतुर्दशी का जलाभिषेक किया। वहीँ अलसुबह हरिद्वार से गंगाजल लेकर चले यूपी और हरियाणा के डाक कावड़ियों के बीच रुड़की के मंगलौर क्षेत्र में जानलेवा झगड़ा हो गया।

कावड़ियों में जमकर लाठी डंडे और चाकू चले। हमले में यूपी के सिसौली निवासी कांवड़िए कार्तिक की सिर में लाठी लगने से मौत हो गई। हत्या का आरोप हरियाणा के कांवड़ियों पर लगा है। हत्या के बाद भाग रहे हरियाणा के पांच कांवड़ियों को पुलिस ने पकड़ लिया है। पांचों युवक पानीपत के चुलकाना गांव के डाक कांवड़िये बताये जा रहे हैं। भागे हुए कावड़िये रोहतक के बताये जा रहे हैं। 

मुजफ्फरनगर के सिसौली के कांवडिए शिवरात्रि की सुबह हरिद्वार से गंगाजल लेकर वापस लौट रहे थे। मंगलौर के पास पानीपत के चुलकाना गांव के डाक कांवडयि़ों के साथ आगे निकलने को लेकर कहासुनी हो गई । इसी दौरान हरियाणा के कांवड़ियों ने लाठी-डंडों और चाकुओं से हमला बोल दिया। सिर में लाठी लगने से सिसौली के कार्तिक की मौत हो गई जबकि अन्य कई घायल हैं। कार्तिक सेना में कार्यरत था। हत्या की वारदात के बाद भाग रहे कांवडिय़ों को पकड़ लिया गया है। सिसौली में गम का माहौल है। एसएसपी विनीत जायसवाल का कहना है कि वारदात मंगलौर में हुई है, जिले में कोई मामला नहीं हुआ।

थाने में सिसौली कसबे के विक्रांत कुमार पुत्र राजेंद्र सिंह की ओर से पानीपत के चुलकाना गांव के कांवड़ियों के खिलाफ जानलेवा हमले की तहरीर दी गई है। आरोपी पानीपत के गांव चुलकाना निवासी सचिन कुमार, पंकज, टिंकू, गोलू, आकाश समेत 25-30 अज्ञात कांवडिय़ों के खिलाफ तहरीर दी गई है। पानीपत के चुलकाना गांव के रहने वाले हैं, जिनमें पांच पकड़े गए हैं।