Mon, 1 Aug 2022

Delhi: दोपहिया वाहन ले जाने वाले हो जाएं सावधान, कटेगा 10 हजार का चालान, स्मार्ट इंटेलीजेंट सिस्टम से होगी पहचान

Delhi: दोपहिया वाहन ले जाने वाले हो जाएं सावधान, कटेगा 10 हजार का चालान, स्मार्ट इंटेलीजेंट सिस्टम से होगी पहचान

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर दोपहिया वाहनों को चलाने की अनुमति नहीं दी जाएगी. एक्सप्रेसवे पर लगातार बढ़ रहे हादसों के बाद नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (NHAI) ने गाजियाबाद-मेरठ ट्रैफिक पुलिस के साथ मिलकर यह फैसला लिया है. ट्रैफिक पुलिस अब ऐसे वाहनों का 20 हजार रुपये का चालान काटेगी. स्मार्ट इंटेलीजेंट सिस्टम से दोपहिया और तिपहिया वाहनों की पहचान की जाएगी.

स्मार्ट इंटेलीजेंट सिस्टम से होगी वाहनों की पहचान

बताते चलें, स्मार्ट इंटेलीजेंट सिस्टम से दोपहिया और तिपहिया वाहनों की पहचान की जाएगी. दरअसल, मेरठ एक्सप्रेसवे बनने के बाद लोग रॉन्ग साइड से अपने दोपहिया और तिपहिया वाहनों को लेकर आते हैं. इन वाहनों की वजह से कई सारी दुर्घटनाएं हो जाती हैं.
 
कई बार तो बड़ा हादसा भी हो जाता है. इतने हादसों के बाद भी बाइक सवार अभी भी लगातार इस एक्सप्रेस वे का इस्तेमाल कर रहे हैं. यही वजह है कि एनएचएआइ ने अब सख्त कदम उठाना शुरू कर दिया है और ऐसे वाहनों का ₹20000 चालान करने का फैसला किया गया है. 

गौरतलब है कि मेरठ एक्सप्रेस-वे बनने के बाद रॉन्ग साइड से आ रहे दोपहिया और तिपहिया वाहनों का लगातार कई बड़ी दुर्घटनाएं हो रही हैं. इतने हादसों के बाद भी बाइक सवार हैं कि लगातार इस एक्सप्रेस-वे का इस्तेमाल कर रहे हैं. इसी के चलते NHAI ने यह कदम उठाया है.

ऐसा माना जा रहा है कि अगस्त महीने के पहले हफ्ते से यह कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी. हर टोल बूथ पर स्मार्ट इंटेलीजेंट सिस्टम लगा दिया गया है. अगर यहां से कोई प्रतिबंधित वाहन गुजरता है तो उसकी पहचान कर ली जाएगी और उसकी फोटो नंबर प्लेट ट्रैफिक पुलिस के साथ साझा की जाएगी. फिर उसे चालान भेजा जाएगा.

दुर्घटना की शिकार स्कूटी और बस.

गौरतलब है कि अभी तक केवल ओवर स्पीड वाले वाहनों की सूची ट्रैफिक को दी जाती थी और उनका चालान किया जाता था. लेकिन अब सॉफ्टवेयर में अपडेट कर प्रतिबंधित वाहनों की लिस्ट तैयार की जाएगी और चालान के लिए ट्रैफिक पुलिस को भेजा जाएगा.