Thu, 28 Jul 2022

Games 2022: भारत को दिला सकते हैं गोल्ड मेडल, ये 6 धाकड़ खिलाड़ी कॉमनवेल्थ गेम्स में लहराएंगे तिरंग

games 2022: भारत को दिला सकते हैं गोल्ड मेडल, ये 6 धाकड़ खिलाड़ी कॉमनवेल्थ गेम्स में लहराएंगे तिरंगा

Commonwealth Games 2022: बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 यूनाइटेड किंगडम में आज (28 जुलाई) से शुरू हो रहे हैं. जबकि इनका समापन 8 अगस्त को होगा. भारत हमेशा से ही राष्ट्रमंडल खेलों में अच्छा प्रदर्शन करता आया है. गोल्ड कोस्ट 2018 में हुए खेलों में भारत तीसरे स्थान पर रहा था. इस बार भारत के 215 एथलीटों का दल टूर्नामेंट में मेडल पर दांव लगाएगा. इनमें पांच ऐसे खिलाड़ी हैं, जो भारत के लिए गोल्ड मेडल जीतने के प्रबल दावेदार हैं, पहले भी ये प्लेयर भारत का नाम ऊंचा कर चुके हैं. आइए जानते हैं, इन खिलाड़ियों के बारे में

24 साल के रवि दहिया (Ravi Dahiya) बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में गोल्ड मेडल जीतने के प्रबल दावेदार हैं. 24 साल का ये खिलाड़ी टोक्यो ओलंपिक के बाद से ही बहुत ही शानदार फॉर्म में है, जहां उन्होंने सिल्वर मेडल अपने नाम किया था. वह पहली बार कॉमनवेल्थ गेम्स खेलने उतरेंगे और मेडल अपनी झोली में करना चाहेंगे. रेसलर रवि दहिया 57 किग्रा वर्ग में खेलेंगे. रवि दहिया की खासियत ये है कि वो अपने विरोधियों को बहुत ही आसान से चित कर देते हैं. 

भारतीय बैडमिंटन की स्टार पीवी सिंधु (PV Sindhu) दुनिया की बेहतरीन प्लेयर्स में से एक हैं. मौजूदा समय में वह दुनिया की सांतवें नंबर की खिलाड़ी हैं. सिंधु बहुत ही शानदार फॉर्म में चल रही है. हाल ही में उन्होंने सिंगापुर ओपन का खिताब जीता था. वह भारत के ओलंपिक में दो मेडल जीतने वाली एकमात्र महिला खिलाड़ी हैं. 2016 ओलंपिक में उन्होंने सिल्वर मेडल और 2020 टोक्यो ओलंपिक में उन्हों कांस्य पदक अपने नाम किया था. सुपरहिट सिंधु ने अगर अपना बेस्ट दिया, तो भारत की झोली में एक गोल्ड मेडल पक्का है. चीन और जापान के खिलाड़ी कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा नहीं लेते हैं, ऐसे में सिंधु की राह आसान लग रही है. 

टोक्यो ओलंपिक की रजत पदक विजेता वेटलिफ्टर मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) इस साल कॉमनवेल्थ खेलों में स्वर्ण पदक जीतने की प्रबल दावेदार हैं. पिछली बार मीराबाई चानू ने गोल्ड मेडल पर कब्जा किया था. उन्हें अपने भार वर्ग में ज्यादा प्रतिस्पर्धा की उम्मीद नहीं है क्योंकि वह अपने प्रतिद्वंद्वियों से काफी आगे है. 49 किग्रा वर्ग में उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 207 किग्रा है. ऐसे में भारतीय दल को उनसे स्वर्ण पदक ही आस है. 

मनिक बत्रा (Manika Batra) इस समय बहुत ही शानदार फॉर्म में हैं और टेबल टेनिस में उनसे भारतीय दल को गोल्ड मेडल की आस है. गोल्ड गोस्ट में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स मनिक बत्रा ने चार मेडल जीते थे, जिसमें दो स्वर्ण पदक शामिल हैं. 27 साल की मनिक बत्रा फिलहाल टेबल टेनिस में भारत की टॉप खिलाड़ी हैं और उनकी सिंग्लस में रैंकिंग में 41वीं है.