Sun, 31 Jul 2022

Haryana: गुरूग्राम से सोहना पहुंचना हुआ आसान, हरियाणा में शुरू हुए 3 हाईवे, CM खट‍्टर ने अपनी मांगें भी रखी ​​​​​​

Haryana: गुरूग्राम से सोहना पहुंचना हुआ आसान, हरियाणा में शुरू हुए 3 हाईवे, CM खट‍्टर ने अपनी मांगें भी रखी

चंडीगढ़ पिछले 8 वर्षों में प्रदेश में 58 आरओबी अथवा आयूबी का निर्माण पूरा किया जा चुका है और 45 आरओबी अथवा आरयूबी का निर्माण कार्य प्रगति पर है। मुख्यमंत्री गुरूग्राम में राष्ट्रीय राजमार्ग की तीन बड़ी परियोजनाओं के लोकार्पण अवसर पर संबोधित कर रहे थे। लगभग 3450 करोड़ रूपये की इन तीन परियोजनाओं के लोकार्पण कार्यक्रम में केंद्रीय सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी मुख्य अतिथि थे।

 
इन परियोजनाओं का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरूग्राम में बनाया गया एनएच-248ए दिल्ली-गुरुग्राम हाईवे को दिल्ली-वडोदरा एक्सप्रेस वे से जोड़ता है। इससे गुरुग्राम से सोहना के बीच की यात्रा के समय में भी कमी आएगी। जहां पहले गुरूग्राम से सोहना जाने में 1 घंटे का समय लगता था, वहीं अब मात्र 15 मिनट में सोहना पहुंचा जा सकता है। वर्तमान में राजीव चौक से सोहना लगभग 20 हजार वाहन गुजरते हैं और इन वाहनों की संख्या आगे भी बढ़ेगी। इस तथ्य को मद्देनजर रखते हुए उन्होंने गडकरी से कहा कि जिस प्रकार से उन्होंने चैन्नई में चार लेयर की सड़क बनाई हैं उसी तर्ज पर हमारे यहां भी दो -तीन व चार लेयर की सड़के बनवाई जाएं ताकि वाहनों की बढ़ती संख्या से ट्रेफिक जाम की समस्या भविष्य में ना हो।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस प्रकार की मल्टी लेयर सड़के विदेशों में देखने को मिलती हैं। गडकरी हमारे यहां ऐसी सड़के बनवाकर उन पर प्रति घंटा वाहनों की संख्या का आंकलन करने वाले मीटर लगवा दें। फिर हम भी दुनिया के अग्रणी देशों में शामिल हो जाएंगे। उन्होंने ये भी कहा कि पिछले 10 वर्षों में गुरूग्राम में काफी बदलाव आएं हैं जिसने 10 साल पहले गुरूग्राम को देखा होगा वह यदि आज देखेगा तो उसकी आंखे फटी रह जाएंगी। उन्होंने हरियाणा में सड़क इन्फ्रास्ट्रक्चर सुधार का उल्लेख करते हुए कहा कि प्रदेश के 12 शहरों में 950 करोड़ रूप्ये की लागत से नए बाईपास निर्माणधीन हैं।


सीएम ने कहा कि आज खेरड़ी मोड़ से भिवानी बाईपास होते हुए हालुवास गांव तक चार लेन परियोजना का शुभारंभ किया गया है और एनएच-11 पर रेवाड़ी से अटेली मंडी चार मार्गीय सड़क का उद्घाटन किया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में हरियाणा में एक हजार 70 किलोमीटर लंबे 17 राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित किए गए थे जिनमें से 20 हजार करोड़ रूपये की लागत के लगभग 669 किलोमीटर लंबे 11 राष्ट्रीय राजमार्गों का उद्घाटन व शिलान्यास केन्द्रीय मंत्री गडकरी द्वारा किया जा चुका है। इनमें से 6 का कार्य पूरा भी हो चुका है। केन्द्रीय मंत्री गडकरी के सामने मुख्यमंत्री ने ट्रांस यमुना हाईवे बनवाने की मांग रखी और कहा कि इसके बनने से हरियाणा के यमुनानगर तथा उत्तर प्रदेश के यात्रियों को लाभ मिलेगा। इसी प्रकार, उन्होंने हरियाणा में ई-बस अर्थात हैंगिग बस चलवाने की मांग भी रखी और कहा कि इससे दिल्ली आवागमन आसान हो जाएगा।