Fri, 5 Aug 2022

जयपुर-अजमेर समेत 5 ठिकानों पर मारा छापा, चीफ फायर ऑफिसर रिश्वत लेते ट्रैप

जयपुर-अजमेर समेत 5 ठिकानों पर मारा छापा, चीफ फायर ऑफिसर रिश्वत लेते ट्रैप

 


राजस्थान की राजधानी जयपुर में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने बड़ी कार्रवाई की है. बीते गुरुवार को नगर निगम ग्रेटर में बड़ी कार्रवाई करते हुए चीफ फायर ऑफिसर जगदीश फुलवारी को 50 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए ट्रेप कर लिया गया. सीएफओ फुलवारी अपने ड्राइवर श्रवण के माध्यम से रिश्वत वसूल कर रहा था. ऐसे में एसीबी की टीम ने ड्राइवर श्रवण को भी गिरफ्तार कर रिश्वत की रकम प्राप्त कर ली.

एसीबी के इस एक्शन से नगर निगम ग्रेटर ऑफिस में हड़कंप मच गया. चीफ फायर ऑफिसर के ऑफिस में मौजूद कर्मचारी इधर उधर हो गए. जानकारी में सामने आया कि सीएफओ फुलवारी शनिवार को सवामणी करने वाले थे. इसके पहले ही ट्रेप हो गया. एसीबी मामले की जांच कर रही है. साथ ही रिश्वतखोरी के दूसरे मामलों का भी पता लगाया जा रहा है.

 
एनओसी जारी करने की एवज में ली गई थी रिश्वत

मिली जानकारी के मुताबिक रिश्वत की यह रकम अग्निशमन उपकरणों को बिल्डिंग में लगाने के लिए एनओसी जारी करने की एवज में ली गई थी. परिवादी ने एसीबी में शिकायत दर्ज करवाई थी कि एनओसी जारी करने की एवज में नगर निगम ग्रेटर में चीफ फायर ऑफिसर जगदीश फुलवारी 1 लाख रुपए की रिश्वत मांग रहा है.

इसमें 50 हजार रुपए वह पहले एक दलाल राकेश के मार्फत दे चुका है. तब एसीबी ने गुरुवार को ट्रेप रचा. नगर निगम ग्रेटर के ऑफिस में सीएफओ जगदीश फुलवारी और उनके ड्राइवर श्रवण को 50 हजार रुपए की रिश्वत लेते धरदबोचा गया. फायर ऑफिसर के जयपुर व अजमेर जिले में ठिकानों पर सर्च कार्रवाई जारी है.

पांच ठिकानों पर एसीबी की सर्च कार्रवाई

एसीबी ने गुरुवार दोपहर को सीएफओ जगदीश फुलवारी और उसके ड्राइवर श्रवण को ट्रेप किया. इसके बाद ड्राइवर के घर के अलावा पांच ठिकानों पर एसीबी ने सर्च कार्रवाई की. इनमें जयपुर में 3 और अजमेर में 2 ठिकानों पर छापामरी गई. एसीबी की जांच में सामने आया कि सीएफओ के जयपुर में दो फ्लैट है, जो कि विद्याधर नगर में है. इसके अलावा सीएफओ का घर अजमेर जिले के ब्यावर में है. वहां भी एसीबी ने सर्च कार्रवाई की. वहीं, दलाल राकेश के घर भी सर्च की गई.