Fri, 15 Jul 2022

मनाया जाएगा रक्षाबंधन का पर्व इस दिन शुभ मुहूर्त के लिए ज्योतिष उपाय

मनाया जाएगा रक्षाबंधन का पर्व इस दिन शुभ मुहूर्त के लिए ज्योतिष उपाय

रक्षाबंधन के पर्व को भारत में काफी महत्व के साथ मनाया जाता है। इस दिन बहनें अपनी भाई की कलाई पर राखी बांधती है। दरअसल रक्षाबंधन का पर्व सावन महीने की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। हिंदू पंचांग के अनुसार इस त्योहार को भाई-बहन के आपसी प्रेम के रूप में भी मनाया जाता है। ज्योतिष शास्त्र में ऐसा उल्लेख है कि रक्षाबंधन के दिन दान धर्म करना काफी शुभ होता है। आइए जानते हैं इस वर्ष रक्षाबंधन की तारीख और शुभ मुहूर्त।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सावन महीने की पूर्णिमा के दिन रक्षाबंधन का पर्व भारत में मनाया जाता है। रक्षाबंधन इस बार 11 अगस्त यानी सावन माह की शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को है। बताने की 11 अगस्त की सुबह 10:38 से शुरू होकर 12 अगस्त की सुबह 7:05 तक रहेगा। हालांकि 12 अगस्त को उदया तिथि होने के बाद भी रक्षाबंधन 11 अगस्त को ही मनाया जाएगा। 

रक्षाबंधन 2022 का शुभ मुहूर्त

शुभ मुहूर्त- 11 अगस्त सुबह 9:28 मिनट से शाम 9:14 मिनट तक रहेगा।
अभिजीत मुहूर्त- ये मुहूर्त दोपहर 12:06 मिनट से 12:57 मिनट तक है।
अमृत काल- ये शाम 6:55 मिनट से रात्रि 8:20 मिनट तक रहने वाला है।
ब्रह्म मुहूर्त- दरअसल ब्रह्म मुहूर्त सुबह 4:29 मिनट से सुबह ही 5:17 मिनट तक रहेगा।

रक्षाबंधन के दिन करें ये उपाय

अगर आपका कोई भी महत्वपूर्ण कार्य काफी लंबे समय से रुका हुआ है, तो रक्षाबंधन के दिन गणेश जी के चित्र के सामने लोंग व सुपारी रखकर पूजा करनी काफी फायदेमंद साबित होगी। वहीं आप किसी जरूरी काम या शुभ काम पर जाए तो इस लोंग सुपारी को साथ लेकर जरूर जाएं आपका काम पक्का पूरा हो जाएगा।

रक्षाबंधन के शुभ दिन आपको लाल रंग के मिट्टी के घड़े में एक नारियल रखकर उस पर लाल रंग का कपड़ा रख देना चाहिए तथा उसकी एक अधूरी सी बनाकर उसे बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें। ऐसा करने से आपके घर में कभी भी धन की कमी नहीं होगी।

रक्षाबंधन के दिन महालक्ष्मी की पूजा करने का काफी ज्यादा महत्व होता है जिस दिन मां लक्ष्मी की पूजा करने से आपकी सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाएगी साथ ही व्यापार भी काफी बेहतर होगा।