Wed, 9 Feb 2022

खराब सेक्सुअल हेल्थ की ओर इशारा करते हैं ये लक्षण, भूलकर भी न करें ignore

खराब   सेक्सुअल हेल्थ की ओर इशारा करते हैं ये लक्षण, भूलकर भी न करें  ignore

एंड्रोलॉजिस्ट के मुताबिक हमारी सेक्स लाइफ  का संबंध सीधे हमारी नॉर्मल लाइफ से जुड़ा होता है. यदि हम नियमित रूप से सेक्सुअली एक्टिव हैं तो इससे हमारे तन और मन दोनों को संतुष्टि मिलती है. साथ ही मन में जीवन के प्रति सकारात्मक विचार और मेहनत करने की प्रेरणा मिलता है. डॉक्टर कहते हैं कि सेक्स से जुड़ी कई ऐसी समस्याएं हैं, जिन्हें हमें कभी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए.

दवाई के बिना ही बढ़ पाएगी मर्दो Libido की ताकत, बस करने होंगे ये काम

कई लोगों के समय के साथ सेक्सुअल डिजायर में कमी आने लगती है. इसका मतलब होता है कि सेक्स को लेकर आपकी इच्छा कम हो चुकी है. इसका असर जीवन के प्रति आपके नजरिये पर पड़ता है और आप धीरे-धीरे निराशावादी होने लगते हैं. डॉक्टरों के मुताबिक यह समस्या पुरुषों के हार्मोन ‘टेस्टोस्टेरॉन’ के लेवल में कमी आने से जुड़ी है. इस हार्मोन की वजह से हमारी सेक्स ड्राइव, स्पर्म प्रोडक्शन, मांसपेशी, बाल और हड्डियां बनती हैं.

खराब   सेक्सुअल हेल्थ की ओर इशारा करते हैं ये लक्षण, भूलकर भी न करें  ignore

डॉक्टर कहते हैं कि ‘टेस्टोस्टेरॉन’ का लेवल लो होने की वजह से पुरुषों का शरीर रिएक्ट करने लगता है. सेक्स  के प्रति उनकी इच्छा कम होने लगती है. वह खुद को निराशा, तनाव में घिरा हुआ महसूस करते हैं. इसकी वजह से उनकी पार्टनर से भी दूरी बढ़ती है. जिसके बाद उन्हें डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियां भी घेर लेती हैं. वक्त रहते डॉक्टर को दिखाने पर हार्मोन की इस गड़बड़ी को ठीक किया जा सकता है.

दवाई के बिना ही बढ़ पाएगी मर्दो Libido की ताकत, बस करने होंगे ये काम

कई लोगों के समय के साथ सेक्सुअल डिजायर में कमी आने लगती है. इसका मतलब होता है कि सेक्स को लेकर आपकी इच्छा कम हो चुकी है. इसका असर जीवन के प्रति आपके नजरिये पर पड़ता है और आप धीरे-धीरे निराशावादी होने लगते हैं. डॉक्टरों के मुताबिक यह समस्या पुरुषों के हार्मोन ‘टेस्टोस्टेरॉन’ के लेवल में कमी आने से जुड़ी है. इस हार्मोन की वजह से हमारी सेक्स ड्राइव, स्पर्म प्रोडक्शन, मांसपेशी, बाल और हड्डियां बनती हैं.

खराब   सेक्सुअल हेल्थ की ओर इशारा करते हैं ये लक्षण, भूलकर भी न करें  ignore

दवाई के बिना ही बढ़ पाएगी मर्दो Libido की ताकत, बस करने होंगे ये काम

कई लोगों के समय के साथ सेक्सुअल डिजायर में कमी आने लगती है. इसका मतलब होता है कि सेक्स  को लेकर आपकी इच्छा कम हो चुकी है. इसका असर जीवन के प्रति आपके नजरिये पर पड़ता है और आप धीरे-धीरे निराशावादी होने लगते हैं. डॉक्टरों के मुताबिक यह समस्या पुरुषों के हार्मोन ‘टेस्टोस्टेरॉन’ के लेवल में कमी आने से जुड़ी है. इस हार्मोन की वजह से हमारी सेक्स ड्राइव, स्पर्म प्रोडक्शन, मांसपेशी, बाल और हड्डियां बनती हैं.