Thu, 28 Jul 2022

Bullet Train: रेलवे मंत्रालय ने दिया बड़ा अपडेट, कुछ ही मिनटों में दिल्ली से जेवर एयरपोर्ट पहुंच जाएंगे

Bullet Train: रेलवे मंत्रालय ने दिया बड़ा अपडेट, कुछ ही मिनटों में दिल्ली से जेवर एयरपोर्ट पहुंच जाएंगे

Latest Update Train:दिल्ली और वाराणसी के बीच चलने वाली बुलेट ट्रेन (Delhi Varanasi Bullet Train) को लेकर बड़ा अपडेट सामने आया है. रेलवे मंत्रालय के मुताबिक दिल्ली से वाराणसी जाने वाली बुलेट ट्रेन के गौतबुद्धनगर जिले में दो स्टॉपेज होंगे. दिल्ली के राय काले खां से खुलने के बाद इसका पहला स्टॉपेज नोएडा सेक्टर-148 में होगा. अगला स्टॉपेज नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर होगा. दिल्ली के लोग महज 21 मिनट में जेवर एयरपोर्ट पर पहुंच जाएंगे. 

रेलवे मंत्रालय ने बुलेट ट्रेन को लेकर एक बड़ा अपडेट दिया है। दिल्ली से वाराणसी जाने वाली बुलेट ट्रेन के गौतबुद्धनगर जिले में दो स्टॉपेज बनाए जाएंगे। दिल्ली के सराय काले खां से खुलने के बाद इसका पहला स्टॉपेज नोएडा सेक्टर 148 में होगा। वही अगला स्टॉपेज  नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर बनाया जाएगा। इसके जरिए दिल्ली के लोग महल 20 मिनट में जेवर एयरपोर्ट पर पहुंच जाएंगे।

बुलेट ट्रेन परियोजना पर काम जोर शोर से शुरू हो चुका है. इस परियोजना के सर्वे का काम पूरा हो चुका है. जिन ट्रेकों पर बुलेट ट्रेन चलेगी उसका भी परीक्षण किया जा चुका है. जानकारी के मुताबिक बुलेट ट्रेन के लिए अलग ट्रैक बिछाए जाएंगे और स्पेशल स्टेशन बनाए जाएंगे.सुरक्षा के लिहाज से दिल्ली-वाराणसी बुलेट ट्रेन रूट पर एलिवेटेड ट्रैक बनाए जाएंगे. कई इलाकों में अंडरग्राउंड स्टेशन बनाने की भी योजना है. इस परियोजना के तहत अयोध्या और आगरा को भी हाई स्पीड रेल नेटवर्क से जोड़ने की योजना है. बुलेट ट्रेन दिल्ली और वाराणसी के बीच रोजाना 18 फेरे लगाएगी. 

जानकारी के लिए बता दें कि दिल्ली वाराणसी के बीच चलने वाली बुलेट ट्रेन के रूट पर कुल 13 स्टेशन होंगे। दरअसल इनमें से 12 स्टेशन उत्तर प्रदेश में होंगे। वही 13 वां स्टेशन दिल्ली में अंडरग्राउंड मैं होगा। इसका रूट तकरीबन 816 किलोमीटर लंबा होगा। वहीं बुलेट ट्रेन 330 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ेगी। दिल्ली से वाराणसी के बीच चलने वाली बुलेट ट्रेन जेवर एयरपोर्ट से भी लोगों की कनेक्टिविटी कर देगी। 

गौरतलब है कि बुलेट ट्रेन की परियोजना पर काम काफी तेजी से शुरु हो चुका है। इस परियोजना के सर्वे का काम पूरा कर लिया गया है। इतना ही नहीं जितने भी ट्रैक पर बुलेट ट्रेन को चलना है, उन सब का परीक्षण भी पूरा कर लिया गया है प्राप्त सूचना के अनुसार बुलेट ट्रेन के लिए अलग बैंक बिछाई जा रहे हैं और स्पेशल स्टेशन भी बनाए जाएंगे।