Wed, 22 Jun 2022

दहेज प्रताड़ना के मामले में पति, सास पर जुर्म दर्ज

दहेज प्रताड़ना के मामले में पति, सास पर जुर्म दर्ज

बिलासपुर। दहेज की मांग पूरी नहीं होने पर विवाहिता को घर से निकाल देने का मामले में जरहागांव पुलिस ने आरोपित पति और सास के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

जरहागांव पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम धरमपुरा निवासी पूर्णिमा यादव पति गोपाल यादव (22) की शादी सन 2019 में सामाजिक रीति-रिवाज से बिलासपुर के चांटीडीह निवासी गोपाल यादव से हुआ था। शादी के बाद से ही सास पुष्पा यादव और पति गोपाल यादव उसे शादी में दहेज कम लाए हो करके प्रताड़ित करते थे। सास द्वारा शादी में मोटर साइकिल और फ्रिज नहीं दिए जाने की बात कहकर प्रताड़ित करती थी। शिकायत करने पर पति द्वारा मारपीट कर घर से निकाल दिया गया। मामले में प्रार्थिया की रिपोर्ट पर जरहागांव पुलिस ने आरोपित पति और सास के खिलाफ दहेज प्रताड़ना की धारा 498ए के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में ले लिया है।

जिले भर में खुले बोरवेल को करेें बंद , सूचना देने पर इनाम भी

योग जीवन में जीने की कला : दुबे
योग जीवन में जीने की कला : दुबे
यह भी पढ़ें
मुंगेली। कलेक्टर डा. गौरव कुमार सिंह ने कहा है कि खुले बोरवेल अबोध बच्चों के लिए घातक साबित हो सकते हैं। इसे दृष्टिगत रखते हुए शहरी एवं ग्रामीण इलाकों में खुले हुए तथा अनुपयोगी बोरवेल को कांक्रीटीकरण कर तत्काल बंद करने की अपील की है। उन्होंने कहा कि अनुपयोगी बोरवेल को खुले रखने की सूचना देने वाले को नगद पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि जांजगीर-चांपा के ग्राम पिहरीद में खुले बोरवेल में 11 वर्ष के बालक गिर गया था, जिसे रेस्क्यू कर निकाला गया था। इसे देखते हुए शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र में खुले तथा अनुपयोगी बोरवेल को बंद करने की अपील की है। इसके अलावा निर्माण एजेंसियों को भी सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ खुले तथा अनुपयोगी बोरवेल को बंद करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही कार्रवाई का पालन प्रतिवेदन कलेक्टर कार्यालय को प्रस्तुत करने के भी निर्देश दिए हैं।