Sat, 6 Aug 2022

पोस्ट ऑफिस की ये स्कीमें, जो कुछ सालों में ही बना सकती है आपको करोड़पति, जानिये कैसे करें निवेश और कितनी है स्कीमें

पोस्ट ऑफिस की ये स्कीमें, जो कुछ सालों में ही बना सकती है आपको करोड़पति, जानिये कैसे करें निवेश और कितनी है स्कीमें

आज पोस्ट ऑफिस का मतलब केवल डाकघर नहीं रहा है।  बदलते वक्त के साथ पोस्ट ऑफिस ने भी अपने आप को बदला है। पोस्ट ऑफिस (post office ki scheme) में तमाम वो सुविधाएं मिल रही हैं जो आपको किसी बैंक में मिलती हैं। 
 

यही नहीं तकनीक के दौर में खुद को अपग्रेड रखने के लिए भी पोस्ट ऑफिस लगातार नया कर रहा है। पोस्ट ऑफिस ऐसी स्कीमें चला रहा है जिससे आम आदमी को BANK की तरह यहां भी सुविधाएं (facilities) मिल रही हैं। साथ ही सबसे अच्छी बात तो ये हैं कि यहां आपको तगड़े वाला रिटर्न (post office scheme Return) भी मिलता है।
 

पोस्ट ऑफिस की मंथली इनकम स्कीम
 

पोस्ट ऑफिस की रेगुलर मंथली इनकम स्कीम () Regular Monthly Income Schemeमें ग्राहीक को 6.60 प्रतिशत का ब्याज मिलता है। ये ब्याज हर वित्तीय वर्ष (financial year) के हिसाब से बदलता रहता है। इस स्कीम का लाभ लेने के लिए ग्राहक को मिनिमम 1000 रुपए तक अपने खाते में रखने होते हैं। वहीं ग्राहक अधिक से अधिक वो 4.5 लाख रुपए खाते में रख सकता है। दूसरी ओर ज्वाइंट अकाउंट (post office joint account) में 9 लाख रुपए तक जमा करा सकते हैं।
 

Post Office सेविंग अकाउंट (savings account)
 

पोस्ट ऑफिस में सेविंग अकाउंट खुलवाने पर ग्राहक को वार्षिक 4 प्रतिशत ब्याज मिलता है। आप 500 रुपए की नकद राशि से डाकघर में सेविंग अकाउंट (savings account in post office) खुलवा सकते हैं। साथ ही डाकघर ज्वाइंट अकाउंट (post office joint account) खोलने की भी सुविधा देता है। इस आकउंट के खुलवाने पर आपको चेक बुक, ATM कार्ड, ई-बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, आधार सीडिंग,  अटल पेंशन योजना प्रधान मंत्री आदि का लाभ भी मिलता है।
 

पोस्ट ऑफिस की सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम की पूरी जानकारी (SCSS)


सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम (Post Office Senior Citizen Saving Scheme) या पीओएससीएसएस स्कीम वरिष्ठ नागरिकों के लिए चलाई गई है। इसस स्कीम की समय अवधि 55 साल की है। इस स्कीम के तहत  7.4 प्रतिशत का ब्याज मिलता है। ब्याज से तिमाही (quarter) आधार पर इनकम होती है। ये खाते खोलते वक्त ध्यान रखें कि व्यक्ति की उम्र उस तारीख तक 60 साल हो चुकी हो। SCSS योजना के तहत Investment आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत लाभ मिलता है।

पांच साल वाला रिकरिंग डिपॉजिट (recurring deposit)
 

पोस्‍ट ऑफिस में मिनिमम 100 रुपये प्रति महीने के इन्‍स्‍टॉलमेंट पर रिकरिंग डिपॉजिट अकाउंट खुलवा सकते हैं। पोस्‍ट ऑफिस RD पर मौजूदा ब्याज दर 5.8 फीसदी वार्षिक मिलता है। अकाउंट सिंगल या ज्वॉइंट में  10 साल से अधिक उम्र के नाबालिग और दिमागी रूप से कमजोर व्यक्ति के नाम खुला सकते हैं।
 

सुकन्या समृद्धि योजना की पूरी जानकारी (Sukanya Samriddhi Yojana) 

सुकन्या समृद्धि योजना तहत अकाउंट किसी बच्ची के जन्म लेने के बाद 10 साल की उम्र से पहले ही खुलवा सकते हैं। ये खात केवल 250 रुपए में खुल जाता है। इस पर  आपको सालाना 7.6 प्रतिशत की दर से ब्याज मिलता है जो fixed deposit से काफी ज्यादा है। इसमें  एक वित्त वर्ष में ज्यादा से ज्यादा 1.5 लाख रुपए जमा कराए जा सकते हैं। इस योजना में Investment करने पर 80सी के तहत टैक्स में भी छूट मिलती है। 
पोस्ट ऑफिस पब्लिक प्रॉविडेंट फंड (PPF)  खातों में जमा राशि पर फिलहाल 7.1 प्रतिशत ब्याज दिया जा रहा है। ये अकाउंट 15 साल के लिए खोल सकते हैं। वहीं इसे आगे 5 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है। PPF में मिनिमम 500 रुपये से Account खुलवा सकते हैं। इसमें एक फाइनेंशियल में कम से कम 500 रुपए निवेश करना होता है। वहीं आप एक साल में अकाउंट में अधिकतम 1.5 लाख रुपए तक ही निवेश कर सकते हैं।

 

पोस्ट ऑफिस नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (national savings certificate)
 

POST OFFICE नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (NSC) में इनवेस्ट पर 6.8 प्रतिशत सालाना के हिसाब से ब्याज मिलता है। इसमें आप 5 साल के लिए इनवेस्ट कर सकते हैं। national savings certificate में जमा राशि पर आयकर अधिनियम की धारा 80 C के तहत कर छूट रहती है। NSC अकाउंट खुलवाने के लिए आपको न्यूनतम 1000 रुपए निवेश करना पड़ता है।