Sun, 31 Jul 2022

VIDEO: कंट्रोल से हो चुका था बाहर कंट्रोल बाल-बाल बची जान! यहां गिरा चीनी रॉकेट

VIDEO: कंट्रोल से हो चुका था बाहर कंट्रोल बाल-बाल बची जान! यहां गिरा चीनी रॉकेट

 नई दिल्ली: सोशल मीडिया पर कई लोगों ने शनिवार को उल्का वर्षा (Meteor showers) के वीडियो शेयर किए. वीडियो में रात के समय आसमान में लाल, नीले और पीले रंग की चमकीली चीज गुजरती दिखाई दे रही है. कुछ लोग ये देखने में व्यस्त हैं. जबकि, अन्य दर्शक इस पल को कैमरे में कैद करते दिख रहे हैं. हालांकि, असलियत में ये कोई उल्का वर्षा नहीं थी, बल्कि इंडियन ओशन के ऊपर पृथ्वी के वायुमंडल में फिर से प्रवेश करने वाले एक चीनी रॉकेट से मलबा था, जो जल रहे थे.
 

अफवाहों पर विराम लगाते हुए यूएस स्पेस कमांड ने ट्वीट किया, "USSPACECOM पुष्टि करता है कि पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना (PRC) लॉन्ग मार्च 5B (CZ-5B) 7/30 बजे लगभग 10:45 बजे MDT पर हिंद महासागर में फिर से प्रवेश कर गया. हम आपको अधिक जानकारी के लिए PRC को रेफर करते हैं.” 

बता दें कि पूर्व और दक्षिण पूर्व एशिया में हजारों लोगों ने रात को आकाश में चमकीली वस्तुओं को गुजरते देखा. साथ ही कई लोगों ने इसे उल्का वर्षा बताते हुए उसका वीडियो भी साझा किया. एस्ट्रोनॉट्स और वैज्ञानिकों ने इस गलतफहमी को दूर करने के लिए बयान जारी किया. नासा के एस्ट्रोनॉट क्रिस हैडफील्ड ने ट्वीट किया, "ऐसा लगता है कि चीनी रॉकेट मलेशिया के ऊपर ही जल गया. अब इंतजार कीजिए कि कौन से बड़े टुकड़े पृथ्वी पर आ गिरे."

चाइना मैनड स्पेस एजेंसी (CMSA) के अनुसार, चीन ने 24 जुलाई को 23 टन लॉन्ग मार्च-5B Y3 कैरियर रॉकेट लॉन्च किया है. इधर, नासा के प्रशासक बिल नेल्सन ने अपने रॉकेटों को सुरक्षित रूप से पृथ्वी पर पुन: प्रवेश नहीं कराने के लिए चीन पर नाराजगी व्यक्त की है.